Jump to Navigation
अद्यतन सूचनाएं :

विध्यार्थी

सीएमटीआई, बंगलौर

में परियोजना कार्य की तलाश में

स्नातकोत्तर इंजीनियरिंग छात्रों के लिए दिशा-निर्देश

 

सीएमटीआई पाठ्यक्रम आवश्यकताओं के हिस्से के रूप में इस परियोजना का काम बाहर ले जाने के लिए पेशेवर कॉलेजों के छात्रों का स्वागत करती है आवेदकों के लिए निम्न दिशा-निर्देश लागू होते हैं।
 

  • सीएमटीआई के साथ परियोजना का काम पाने के इच्छुक छात्रों का मूल्यांकन और स्वीकृति सख्ती से सीएमटीआई के चयन के मापदंड के अनुसार योग्यता और पात्रता के आधार पर की जाती है।
  • परियोजना के उम्मीदवार और आवंटन के चयन में छात्र परियोजना समिति का निर्णय अंतिम होता है।
  • अकादमिक वर्ष के लिए छात्र समुदाय के लिए सीएमटीआई द्वारा की पेश किए गए अनुसंधान एवं विकास परियोजना धाराएं इसके साथ दी गई हैं। विशिष्ट परियोजनाओं की सूची छात्रों के लाभ के लिए प्रदान की जाती है। छात्र परियोजना सूची 

 
प्रत्येक छात्र को उसकी रूचि और अनुभव (परियोजना धाराओं और परियोजनाओं की सूची देखें) पर आधारित की पेशकश की परियोजनाओं के बीच एक विशेष परियोजना के लिए आवेदन करना चाहिए।.
 

  • छात्रों को सीएमटीआई की आवश्यकता के आधार पर आवेदन की गई एक वैकल्पिक परियोजना की पेशकश की जा सकती है।
  • छात्र/कॉलेज संस्थान के विभाग के प्रमुख के माध्यम से परियोजनाओं के लिए आवेदन कर सकते हैं।
  • छात्रों को उनके जीवनवृत्त, सारांश युक्त आवेदन की एक हार्ड कॉपी विश्विद्यालय में भेजना आवश्यक हैं जिसमें विश्विद्यालय से पूर्व प्राप्त अंक की गई परियोजनाएं और उनकी रूचि के विषय सम्मलित होंगे।
  • कॉलेज से एक आंतरिक गाइड की जरूर पहचान की जानी चाहिए। निष्पादन, मूल्यांकन और परियोजना का समन्वय में आंतरिक गाइड की सक्रिय भागीदारी जरूरी है।
  • आवेदकों के बीच परियोजना जरूरतों को पूरा करने के लिए उपयुक्त छात्रों का मूल्यांकन किया जाता है और इस परियोजना को क्रियान्वित करने के लिए चुना जाता है।
  • चयनित छात्रों को अपने आंतरिक गाइड की देखरेख और सीएमटीआई गाइड के तहत परियोजना पर काम करना होगा।
  • परियोजना के कार्य की प्रगति का मूल्यांकन संयुक्त रूप से छात्रों द्वारा परियोजना प्रगति प्रस्तुतियों के माध्यम से सीएमटीआई और आंतरिक गाइड्स द्वारा नियमित अंतराल पर की जाएगी।
  • छात्र परियोजना के समापन पर विधिवत आंतरिक गाइड एवं सीएमटीआई गाइड तथा उनके संस्थान के प्रधानाचार्य/विभागाध्यक्ष द्वारा हस्ताक्षर की गई परियोजना रिपोर्ट को सीएमटीआई को, परियोजना के पूरा होने पर प्रस्तुत करेंगे और एक परियोजना के पूरा होने के प्रमाण पत्र प्राप्त करेंगे।
  • परियोजना के पूरा होने का प्रमाणपत्र परियोजना के संतोषजनक समापन पर (परियोजना दीक्षा पर निर्णय के अनुसार निर्धारित लक्ष्यों की बैठक) और छात्रों की उपस्थिति के आधारित जारी किए जाएंगे।
  • नियमित उपस्थिति परियोजना के काम की अवधि के दौरान सीएमटीआई में आवश्यक है। उपस्थिति पर नजर रखी जाएगी और समय समय पर अपने गाइड/कॉलेज को सूचित किया जाएगा।
  • छात्रों को परियोजना का काम शुरू होने से पहले, निर्धारित सदस्यता शुल्क पर, सीएमटीआई एन.आइ.सी.एम.ए.पी लाइब्रेरी की सदस्यता लेना चाहिए।ए
  • डिजाइन अधिकार, कॉपीराइट, आदि दस्तावेज/कार्यक्रमों की आईपीआर आदि परियोजना के हिस्से के रुप में बनाए जाएंगे। छात्रों को सीएमटीआई में परियोजना पर कार्य करने के लिए दस्तावेज पर हस्ताक्षर कर उपरोक्त शर्तों से सहमत होना अनिवार्य है।
  • छात्रों को सीएमटीआई में की गई परियोजना पर आधारित कागजात प्रकाशन से पहले सी.एम.टी.आई में पेश कर लिखित अनुमति प्राप्त करनी चाहिए।

 
छात्र परियोजना के काम के लिए किसी भी वजीफा या मुआवजे के लिए हकदार नहीं होगें।



by Dr. Radut.