Jump to Navigation

व्यवसाय/रोजगार

'सेन्ट्रल मैनुफैक्चरिंग टेक्नोलोजी इंस्टीटयूट को भारत सरकार के अधीन वर्ष 1962 में स्थापित किया गया था। संस्थान तुमकुर रोड, बेंगलुरू में स्थित है। संस्थान गतकाल में 'सेन्ट्रल मशीन टूल इंस्टीट्यूट के रूप में जाना जाता था। यह मूल रूप से मशीन टूल और प्रोडक्शन इंजीनियरिंग के लिए एक अनुसंधान और विकास संगठन हैं। विस्तरित उद्योगों को व्यापक समर्थन प्रदान करना ही संस्थान का मुख्य उद्देश्य हैं। संस्थान भारत सरकार के आईएसएसएटी योजना के तहत एक सेक्टोरल सूचना केन्द्र के रूप में स्थापित किया गया था।

 

सीएमटीआई, विनिर्माण प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में नवीनता को प्रोत्साहन देना, नए उत्पाद और प्रक्रिया विकास के लिए एक सहयोगात्मक वातावरण प्रदान करना, विनिर्माण प्रौद्योगिकी की उन्नति में इंजीनियरिंग प्रतिभा और सेवा औद्योगिक आकांक्षाओं को 'उद्योगों के लिए विकसित' करना है।

 

विभिन्न राष्ट्रीय स्तर के हितधारक जैसे भारी उद्योग एवं लोक उद्यम मंत्रालय, भारत सरकार, भारत के राष्ट्रीय विनिर्माण प्रतिस्पर्धात्मकता परिषद (एनएमसीसी), विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग (डीएसटी) आदि की ठोस नीति नियोजन कदम से सीएमटीआई में अनुसंधान गतिविधियों के क्षितिज के विस्तार के लिए नए रोमांचक रास्ते खोल दिए हैं।

 

संस्थान भारत के भविष्य की तकनीक विकसित करने के लिए प्रतिभाशाली इंजीनियरों को अवसर प्रदान करने के लिए नई पहल की एक टोकरी के माध्यम से एक व्यवहार्य और टिकाऊ 'प्रौद्योगिकी विकास मंच' के निर्माण के लिए प्रयास कर रहा है।

 

संस्थान 'प्रौद्योगिकी विकास मंच' के द्वारा प्रतिभाशाली इंजीनियरों को तकनीक विकास के माध्यम से भारत के भविष्य को व्यवहार्य और टिकाऊ के बनाने के लिए एक अवसर प्रदान कर रहा है।

 

संस्थान में सीएडी, सीएएम, सीएई, सीआईएम, चरमपंथी सूक्ष्मता, माइक्रो और नैनो प्रौद्योगिकी, रैपिड प्रोटोटाइप/टूलिंग, सीएनसी आवेदन, आभासी निर्माण, मेकाट्रानिक्स, हाइड्रोलिक्स, शोर और कंपन, आईटी विनिर्माण आदि से जुड़े क्षेत्रों के उद्योगों के लिए उन्मुख अनुसंधान करने हेतु आधुनिक प्रयोगशालाएं और सुविधाएं है।

वर्तमान रोजगार अवसरों को देखने के लिए क्लिक करें  www.applytocmti.in



by Dr. Radut.